Tag Archives: रिश्तों में चुदाई

माँ बनी अंकल की रांड

नमस्कार दोस्तो मेरा नाम विकास हे और मेरी उम्र 19 साल हे. मैं दिल्ली की एक रिच फेमली से हूँ. और आज मैं अपनी लाइफ की एक सच्ची बात आप को बताने के लिए आया हूँ. पहले मैं आप को अपनी फेमली के बारे में बता दूँ. मेरी फेमली में 4 लोग हे; मैं, मेरी माँ, पिताजी, और मेरा भाई. मेरे पापा गवर्नमेंट जॉब करते हे और भाई ऑफिस में क्लर्क हे. मैं अभी कोलेज के पहले साल में पढ़ाई करता हूँ. मेरी मम्मी का नाम वासंती हे और उनकी उम्र 46 साल हे. मम्मी की हाईट 5 फिट 6 …

Read More »

पहली बार गांड मरवाई शालिनी ने

ये कहानी मेरे कुछ दिन पहले के सेक्स एनकाउंटर की हैं जो मेरी मेनेजर के साथ हुआ था. मैंने 15 दिन पहले ही ये कम्पनी ज्वाइन की थी. हम 10 लोगों की टीम हैं और टीम में 8 लेडिज और सिर्फ दो ही मर्द हैं. मेरी मेनेजर एक सिन्धी औरत हैं. उसकी शादी हो चुकी हे और दो बच्चे भी हैं. वो करीब 35 साल की हैं और काफी यंग लगती हैं/ उसकी हाईट करीब सवा पांच फिट की हैं. और वो हमारी टीम में सब से सेक्सी लेडी हैं. मैं पहले दिन से ही उसको चोदना चाहता था. उसका …

Read More »

दोस्त की नई बीवी की चूत में लंड

हैल्लो दोस्तों, आप लोगों की तरह में भी पिछले कुछ सालों से लगातार कहानियाँ पढ़कर उनके मज़े लेता आ रहा हूँ और मुझे कई कहानियाँ अच्छी लगी और कई तो बहुत ही ज्यादा अच्छी लगी. दोस्तों मुझे पहले तो इन सबको पढ़कर ऐसा लगा कि कई लोग अपनी झूठी कहानियाँ लिखकर भेज देते है, लेकिन जब से यह हादसा मेरे साथ हुआ है, तब से में मान गया. दोस्तों यह मेरी पहली कहानी है, जो में आप सभी को सुनाने जा रहा हूँ और यह मेरा पहला सेक्स अनुभव है, तो फिर सुनो मेरी भी मन की सच्ची यह बात. …

Read More »

मैं अपनी चूत में उसका लंड लेने के लिए तड़प रही थी :- अंजलि

नाम अंजलि है और मेरी उम्र 30 साल की है. में एक सामान्य फिगर की औरत हूँ.. मेरे 2 बच्चे हैं मेरी चूचियां बहुत बड़ी तो नहीं लेकिन.. इतनी मस्त तो ज़रूर है कि मेरे देवर उन्हें मसल कर खुश हो जाते हैं और हमेशा उन्हें मसलने, चूसने, दबाने की कोशिश में रहते है. मेरे देवर की उम्र 33 साल है और वो गावं में रहता है.. वो जब भी आता है तो बस मेरे साथ मजे मस्ती करता रहता है. पिछले दिनों मेरे देवर जी दिन के करीब 2 बजे आए तो में उन्हें देखकर बहुत खुश हुई. उस …

Read More »

तलाश एक सच्चे प्यार की

दोस्तों, मेरा नाम माया है, उम्र ३६ साल है और मैने अभी तक शादी नहीं की है | मै पहले कुछ बनाना चाहती थी और फिर, शादी-वादी करना चाहती थी | लेकिन, जिन्दगी की भाग-दौड़ मैने काफी कुछ पीछे छोड़ दिया था | जिसका अहसास मुझे अब होता है | ख़ैर, जो गया, वो तो गया | मैने आगे बढने के लिए काफी समझोते किये है | कई बार, तरक्की के लिए बॉस के साथ सोना पड़ा और कुछ बड़े लोगो के साथ; अपना काम करवाने के लिए | इससे मेरा काम भी हो जाता था और मेरी ठरक भी …

Read More »

मेरी माँ शबाब बन पापा के साथ तीन लौड़े और लेती

दोस्तों ये कहानी बहुत पुराणी है लेकिन जब ये सब हुआ था तो मैंने कभी किसी से शेयर नहीं किया और उस समय बहुत बुरा भी लगता अब मन थोडा एडल्ट हो गया हूँ तो मेरी समझ में आ गया की लोग बस एन्जॉय करने के लिए कितना कुछ करते है. आज की ये हिंदी सेक्स स्टोरी मेरी माँ की गैंगबैंग चुदाई की है जिसने पढ़ने के बाद आप सभी को मजा आने वाला है. कहानी शुरू होती हैं, बरामदे में खड़ी हुई मेरी माँ सब्जी काट रही थी. मैं वही पर बैठा हुआ अपने असाइनमेंट को करने में लगा …

Read More »

गुस्से में माँ ने खुद ही चुदवा लिया

हेल्लो दोस्तों मैं आपका दोस्त सन्नी ये कहानी मेरे एक दोस्त के दिमाग की उपज है मेरा भी एक छोटा सा किरदार है इसमें लेकिन कहानी पूरी तरह से काल्पनिक है अब आगे उसी के शब्दों में | मेरा नाम अशोक है, और मेरी उम्र २१ साल की है, मेरे घर में मेरे अलावा मेरी मम्मी पापा और मेरी छोटी बहन नैना रहते हैं, मेरे पापा का अपना बिज़नस है और हम अपर मिडल क्लास में आते हैं | खैर , असली कहानी पर आते हैं, हाय, मेरा नाम अशोक है। जैसा की आपने “मैं कमीना मेरी बहन मुझसे बड़ी कमीनी …

Read More »

होस्टल में लड़के लड़के की चुदाई

मेरा नाम हिमेश है और मैं आपको बताना चाहता हूँ कि मेरे यौन-जीवन की शुरुआत कैसे हुई। मेरे घर में मेरे पापा और मम्मी रहती हैं। मुझे मस्ती करना बहुत अच्छा लगता था इसलिए मेरा पढ़ाई में उतना मन नहीं लगता था जितना लगना चाहिए। मेरे डैड ने इसीलिए मुझे होस्टल भेज दिया।   वहाँ जा कर मुझे कुछ ऐसे दोस्त मिले जो कि मेरी क्लास के थे लेकिन अच्छे परिवारों से थे। मैं भी अच्छे घर से ताल्लुक रखता हूँ लेकिन उन सब में एक बात थी कि वे सब सेक्स के मामले में काफी एडवांस थे। उनमें से …

Read More »

मम्मी को चुदते देख मै भी चुदी

मैं अपने घर में एकलौती लड़की हूँ। लाड़ प्यार ने मुझे जिद्दी बना दिया था। बोलने में भी मैं लाड़ के कारण तुतलाती थी। मैं सेक्स के बारे में कम ही जानती थी। पर हां कॉलेज तक आते आते मुझे चूतऔर लण्ड के बारे में थोड़ा बहुत मालूम हो गया था। मेरी माहवारी के कारण मुझे थोड़ा बहुतचूत केबारे में पता था पर कभी सेक्स की भावना मन में आई ही नहीं। लड़को से भी मैं बातें बेहिचक कियाकरती थी। पर एक दिन तो मुझे सबमालूम पड़ना ही था। मम्मी को चुदते देख मै भी चुदी आज रात को जैसे ही …

Read More »

आणि मला हि तेच हव होत

मला नवे मित्र करायची खूप सवय आहे मग ते कॉलेज मध्ये असो किवा बाहेर.आणि माझा स्वभाव हि सर्वाना आवडत त्या मुळे आला मित्र करून कोणीही घेत असे. तसे मी फोन मध्ये नवीन इंटरनेट द्वारे नव्या नव्या वेबसाईट वर मी मोठा मित्र परिवार बनवला होता. तसेच माझ्या बद्दल ची माहिती मी त्या वेब साईट वर लिहिली होती. व ते वाचून खूप जन माझे मित्र व मैत्रीण झाले होते.एक दिवस नवलच घडल. मी सकाळी लवकर कॉलेज मधून आलो.आणि नेहमी प्रमाणे फोन मध्ये टाईम पास करत बसलो. तर पाहतो तर मला एक नवी मैत्रीण मिळाली. नवल म्हणजे माझे नाव विशांत व तीच नाव …

Read More »