प्यासी गांड की मस्त चुदाई

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम रोहित है और में हरियाणा का रहने वाला हूँ, Indian xxx Sex Hindi sex thukai Antarvasna Kamukta Kamsutra kahani लेकिन अभी में इस समय चेन्नई में रहकर नौकरी कर रहा हूँ. दोस्तों यह मेरी आज की कहानी मेरी और मेरी एक बहुत अच्छी दोस्त जानवी के बीच हुए सेक्स की एक सच्ची दास्तान है. दोस्तों जानवी दिखने में थोड़ी मोटी है, उसके फिगर का साईज 38-34-40 है और उसकी जांघे भी थोड़ी भारी है, वो दिखने में बिल्कुल गोरी है और में उसके सामने पतला लगता हूँ. दोस्तों अब में सीधा अपनी आज की कहानी पर आता हूँ.

दोस्तों यह तब की बात है जब में मेरे इंजिनियरिंग के 4th साल में यूनिवर्सिटी में पढ़ रहा था और में उस समय अपने कॉलेज में एक योगा वर्क शॉप का ऑर्गनाइज़र भी था और उस वर्कशॉप के लिए जानवी जब आई तो मैंने
उसे देखा तो वो दिखने में बहुत सुंदर लग रही थी और उसने अपने हाथों और पैरों में लाल कलर की नेल पोलिश लगाई हुई थी और उसने एक पंजाबी सलवार सूट पहना हुआ था, वो उस समय पूरी वर्कशॉप में बहुत सुंदर दिख रही थी, लेकिन मेरी उससे कुछ बात नहीं हुई और उस वर्कशॉप के आखरी में हमने एक छोटी सी पार्टी रखी और जिसमें सभी लोग सिर्फ़ अपने जोड़े से वहां पर आना था.

फिर में अपनी गर्लफ्रेंड के साथ वहां पर चला गया, लेकिन वो अपने किसी दोस्त के साथ आई हुई थी जो उसका बॉयफ्रेंड नहीं था. वो पार्टी के आखरी में वो उदास खड़ी हुई थी. फिर मैंने उससे बात शुरू करने के लिए वैसे ही पूछा कि वर्कशॉप कैसी लगी और तुम ऐसे उदास क्यों खड़ी हुई हो? तो उसने मुझे बताया कि उसके बॉयफ्रेंड को यहाँ पर आना था, लेकिन वो नहीं आया तो इसलिए वो इतनी उदास है.

फिर मैंने उससे मुस्कुराकर कहा कि कोई बात नहीं हम है ना और फिर वो मेरी यह बात सुनकर हंस गई और वो बस मुझसे मेरा नाम पूछकर हंसकर चली गयी. फिर उसी रात मैंने उसे फ़ेसबुक पर अपना दोस्त बनने का आग्रह भेजा और फिर हमारी चेटिंग शुरू हुई और पहले ही दिन में मैंने उससे कह दिया कि वो बहुत सुंदर है और फिर उसने कहा कि नहीं यार में बहुत मोटी हूँ. फिर मैंने कहा कि मुझे मोटी लड़कियाँ पसंद है तो वो अब मेरी सभी बातों को मज़ाक समझने लगी और मुझसे मेरी गर्लफ्रेंड के बारे में पूछने लगी तो मैंने उसे बता दिया कि हम बस सिर्फ एक बहुत अच्छे दोस्त है और इससे ज़्यादा हमारे बीच में कुछ नहीं है.

फिर मैंने उससे पूछा तो उसने मुझे बताया कि उसके बॉयफ्रेंड का नाम दीपेश है. फिर मैंने उससे कहा कि क्या में तुमसे एक दोस्त बनकर एक सवाल पूछ सकता हूँ? तो उसने मुझसे तुरंत हाँ कहा. फिर मैंने उससे पूछा कि क्या तुमने कभी किसी को किस किया है तो मुझे लगा कि वो जवाब नहीं देगी, लेकिन दोस्तों वो तो एकदम खुले दिमाग़ की थी और फिर उसने कुछ देर बाद कहा कि हाँ किया है.

फिर मैंने सोचा कि इससे अब और कुछ पूछता हूँ और अब तो मेरे पूछने पर उसने मुझे यह भी बता दिया कि उसने बहुत बार सेक्स भी किया है और वो अपने बॉयफ्रेंड के साथ महीने में एक बार ज़रूर करती है. फिर मैंने उससे सब कुछ विस्तार में पूछना शुरू किया कि उसका बॉयफ्रेंड उसकी चूत चाटता है या नहीं और अब तक किस किस पोज़िशन में उन्होने चुदाई की है और उससे पूछते पूछते मैंने भी उसे बता दिया कि मुझे चूत चाटना और गांड को किस करना बहुत अच्छा लगता है. फिर उसने मज़ाक में मुझसे कहा कि कभी मुझे अपनी चूत को ठंडी करनी होगी तो में तुमसे करवा लूँगी और फिर मैंने बहुत खुश होकर उससे हाँ कह दिया.

फिर मैंने सोच लिया कि में अपने कॉलेज से जाने से पहले एक बार इसे जरुर चोदकर जाऊंगा और में हमेशा उसे बातों ही बातों में बोलने लगा कि प्लीज मुझे भी कभी मौका दे दो ना और मेरे बहुत बोलने के बाद वो एक दिन मुझसे एक पार्क में मिलने आई और फिर मुझसे कहा कि में कुछ नहीं करने दूँगी.

फिर मैंने उससे कहा कि मैंने बस उसे यहाँ पर बात करने के लिए बुलाया है और अब में उसका हाथ पकड़कर बैठा रहा और बातों में उससे यही पूछता रहा कि उसे क्या क्या करने में मज़ा आता है? वो मुझसे बहुत खुलकर बातें कर रही थी, लेकिन अब उसकी सांसे थोड़ी थोड़ी तेज़ हो गई थी. फिर मैंने उससे कहा कि क्या हुआ? तो वो मुझसे कुछ नहीं ऐसी बातें ना कर और शरमा गई, अब में समझ गया कि लोहा गरम होने लगा है तो बातों में मैंने उससे कहा कि चल आजा नाईट पर चलते है. फिर वो कहने लगी कि नहीं तेरे इरादे कुछ ठीक नहीं है. फिर मैंने कहा कि तू भी तो अब यही चाहती है और वो शरमा गई और मुझसे कहने लगी कि उसके होस्टल का टाईम हो रहा है और फिर जाने लगी.

फिर मैंने उससे पीछे से पूछा कि यार क्या में आज नाईट में आ जाऊँ? वो हंसकर जीभ दिखाकर चली गई और रात को जब मैंने उसे फोन किया तो मैंने वही बात की और वो मुझसे कहने लगी कि नहीं मेरा बॉयफ्रेंड तेरा भी दोस्त है तो यह सब तेरे साथ नहीं. फिर मैंने उससे बोला कि यार बस एक बार उसे भूलकर खुद के लिए जी और अब में उसे भावुक करने लगा और उससे कहने लगा कि तू मुझे अपना दोस्त नहीं मानती.

Gaand ki mast chudai

मैंने उससे और भी बहुत कुछ कहा और बहुत देर तक मनाने के बाद उसने कहा कि ठीक है, लेकिन तुम मुझे छूना भी नहीं. फिर मैंने हाँ बोल दिया और मन ही मन सोचने लगा कि में तुम्हे छू तो जरुर लूँगा और फिर हमने प्लान बनाया कि अगले सप्ताह से होली की छुट्टियाँ शुरू है और जो कि 6 दिन की है तो हम एक दिन नाईट में साथ में रहेगे और उसके बाद में अपने अपने घर पर चले जाएँगे और फिर उसने मुझसे कहा कि यह बात किसी और को मत बताना.

मैंने ठीक है कहा और उस दिन का इंतजार करने लगा और बहुत मुश्किल से मैंने पांच सेक्स की गोलियां खरीदी और उसे वोड्का पसंद थी तो मैंने वो भी ले ली और उसने मुझे शाम के 7 बजे मेरी बाईक लेकर अपने होस्टल के बाहर बुलाया और कहा कि तुम हेलमेट पहनकर आना ताकि कोई तुम्हे पहचाने नहीं और वो खुद भी अपना मुहं एक कपड़े से ढककर आई और पास में ही एक पुराना होटल था और जहाँ पर मैंने एक रूम बुक किया हुआ था, वहाँ पर हमने एक भाई बहन बनकर प्रवेश किया और फिर अपने रूम में गये और उसने अपने मुहं से कपड़ा हठाया तो मैंने देखा कि वो लाल रंग की लिपस्टिक लगाकर आई हुई थी और जो बहुत मस्त लग रही थी.

मैंने उससे कहा कि में बाहर से खाना लेकर आता हूँ और वो मेरा इंतजार करे. फिर में खाना लाने चला गया तो मैंने एक कामसूत्र का हनिमून पेक ले लिया और रूम में आ गया, में रूम में घुसा तो मैंने देखा कि उसने अपने कपड़े बदलकर नाईट सूट पहन लिया है और वो अपने फोन पर बॉयफ्रेंड से बात कर रही ही और नाईट सूट में उसने एक गहरे गले का टॉप पहना हुआ था और जिसमें से उसकी छाती साफ साफ नजर आ रही थी और एक टाईट केफ्री पहनी हुई थी और उस केफ्री में से उसके पैर बहुत भारी और सुडोल लग रहे थे. उसने फोन रखते हुए उससे कहा कि ठीक है बाद में बात करती हूँ. फिर मैंने उससे कहा कि अब में भी कपड़े बदल लेता हूँ और फिर हम साथ में खाना खाएगें.

फिर मैंने उससे पूछा कि तुम्हे कोई दिक्कत तो नहीं है मेरे नाईट सूट से और फिर मैंने उसे एक शर्ट दिखाई जिसको देखकर वो हंस पड़ी और बोली कि कोई समस्या नहीं है और अब में बाथरूम में चला गया और में अपनी अंडरवियर को भी उतारकर सिर्फ़ शर्ट में बाहर आ गया और फिर हमने वोड्का के साथ खाना खाना शुरू किया. तभी उसका कोई फोन आया और जब वो बात करने उठकर चली गई तो मैंने चुपके से उसकी वोड्का में तीन सेक्स की गोलियों को डाल दिया और मैंने खुद भी दो गोलियां खा ली.

मैंने उसके आने से पहले खाना खा लिया था, लेकिन ड्रिंक पूरी नहीं पी थी और जब उसने खाना खत्म किया था. फिर उसे थोड़ा नशा होने लगा और वो मेरे साथ बेड पर बैठ गई और तभी मैंने एकदम से अपना पूरा ड्रिंक खत्म किया और उसके कंधे पर हाथ रख दिया. अब उसने मुझसे बिना कुछ कहे मेरे कंधे पर अपना सर रख दिया और मुझसे बातें करने लगी और बातों ही बातों में वो मेरी जांघ पर हाथ चलाने लगी और मेरी तरफ गिरने लगी और अब मुझ पर भी उस गोली का असर हो रहा था और अब तक मेरा लंड तनकर खड़ा हो चुका था.

Pyasi gaand ki mast chudai kahani

फिर मैंने उसका चेहरा उठाया और उसे एक ज़ोर से किस किया, लेकिन उसने मुझसे कुछ ना कहकर मेरा साथ दिया और वो भी अब बहुत मदहोश हो चुकी थी और किस करते मैंने उसके टॉप में हाथ डाला तो मैंने महसूस किया कि उसने ब्रा नहीं पहनी हुई थी और अब में उसके बूब्स और कमर की मसाज करने लगा, क्योंकि बहुत जोश में था तो इसलिए वो भी मेरी कमर पर नाख़ून गड़ाने लगी और खुद को मुझ पर दबाने लगी और अब वो ज़ोर ज़ोर से सिसकियाँ ले रही थी और हम करीब बीस मिनट किस करके अलग हुए तो हम दोनों पूरे पसीने में भीगे हुए थे.

फिर मैंने तुरंत उसकी टी-शर्ट और केफ्री को उतार दिया और वो बस अब मेरे सामने नीले कलर की पेंटी में थी और उसके वो गोरे गोरे बड़े बूब्स बहुत ही सुंदर लग रहे थे. अब उसने भी मेरे कपड़े उतार दिए और वो मेरा लंड देखकर डर गई, क्योंकि दोस्तों मेरा लंड करीब 6.5 इंच का है, लेकिन उसने आज पहली बार इतना बड़ा लंड देखा था, क्योंकि उसके बॉयफ्रेंड का लंड बस 4 इंच था तो इसलिए उसने मुझसे कहा कि प्लीज थोडा आराम से करना, में वर्जिन नहीं हूँ, लेकिन फिर भी तुम्हारा इतना बड़ा लंड लेना मेरे लिए बहुत मुश्किल होगा.

फिर मैंने उसे बेड पर लेटा दिया और उसके पैरों से किस करना शुरू किया और धीरे धीरे ऊपर बढ़ने लगा और उसके पैरों को किस करने के बाद मैंने उसकी जांघो को किस किया और फिर में जानबूझ कर उसकी चूत को अनदेखा करके ऊपर की तरफ बड़ता गया तो मैंने देखा कि उसकी चूत पर एक भी बाल नहीं था. उसे यह बिल्कुल भी अच्छा नहीं लगा और में उसे चिढ़ाने के लिए उसकी नाभि और पेट को किस करने लगा और फिर थोड़ा ऊपर आकर मैंने उसे बूब्स चूसने शुरू किए.

फिर उसने चीखना चिल्लाना शुरू किया, आआहह उह्ह्ह हाँ और ज़ोर से रोहित ज़ोर से मज़ा आ रहा है साले, कुत्ते, हरामी. फिर उसके मुहं से गाली सुनकर में और गरम हुआ और उसके निप्पल को तेज़ तेज़ काटने लगा और कुछ देर बूब्स को चूसने के बाद एकदम से उसने मेरे बाल पकड़कर खींचे और मुझसे कहा कि मेरी चूत अब बहुत जोश में है और वो बहुत गीली हो गई है प्लीज उसे थोड़ा अच्छे से चाट यार और अब में उसकी चूत को हल्के हल्के अपनी उंगलियों से चोदने लगा.

फिर वो अब और भी बहुत गरम हो हुई और फिर वो मुझसे कहने लगी कि प्लीज रोहित प्लीज और ज़ोर से चाटो. फिर में उसकी चूत को चाटने लगा और वो तो बस जैसे बिल्कुल पागल हो गई और भी तेज़ मोन करने लगी और अपने निप्पल को दबाने लगी, उसने अपनी मोटी भारी जांघ से मेरे मुहं को अपनी चूत पर दबाना शुरू कर दिया और अब मुझे थोड़ा सांस लेने में मुश्किल हो रही थी तो में और तेज़ तेज़ चूसने लगा. तभी एकदम से उसने अपनी कमर उठाई और तेज़ी से चिल्लाई और झड़ गई.

फिर मैंने उसकी चूत का पानी चखकर देखा तो वो बहुत ही स्वादिष्ट था और कुछ देर बाद उसकी चूत चाटने के बाद मैंने उससे अपना लंड चूसने को कहा. फिर वो मेरे लंड को एक रंडी की तरह चूसने लगी और में दस मिनट में झड़ गया, लेकिन तब तक उसकी चूत फिर से चुदने के लिए तैयार थी. मैंने फिर से उसकी चूत को चटना शुरू कर दिया और दस मिनट के बाद मेरा लंड खड़ा देख जानवी ने मुझसे कहा कि प्लीज बस करो अपना लंड जल्दी से मेरी चूत के अंदर डाल दो यार, मुझे और ना तड़पाओ.

अब में अपने लंड का टोपा उसकी गीली कामुक चूत के मुहं पर रगड़ने लगा और लंड को हल्का सा अंदर धकेलकर उसे चोदने लगा, लेकिन अब वो बहुत बैचेन हो रही थी और वो अपनी कमर को उठाकर लंड को अंदर लेने की कोशिश करती, लेकिन मैंने लंड को अंदर नहीं डाला. फिर वो मुझसे अब बहुत गुस्से में कहने लगी कि साले, हरामखोर, कुत्ते अब इसे अंदर डाल भी दे, क्या सिर्फ बाहर से रगड़कर पूरे मज़े लेगा? फिर मैंने उसके मुहं से यह बात सुनते ही एक झटके में लंड को उसकी चूत में पूरा अंदर डाल दिया और लंड भी बिना किसी दिक्क्त के फिसलता हुआ उसकी चिकनी चूत में घुस गया तो मैंने महसूस किया कि उसकी चूत टाईट नहीं थी, क्योंकि वो पहले भी कई बार अपने बॉयफ्रेंड के साथ सेक्स कर चुकी थी.

फिर में उसे तेज़ तेज़ झटके मारने लगा और चोदने लगा और वो तेज़ आवाज़ करने लगी, करीब बीस मिनट चुदाई करने के बाद में झड़ने वाला था और वो दो बार झड़ चुकी थी. फिर मैंने बिना सोचे समझे उसकी चूत में ही वीर्य छोड़ दिया. फिर थोड़ी देर रुककर हमने उस रात चार बार और चुदाई की और फिर बिना कपड़ो के ही एक दूसरे से चिपककर सो गये. फिर जब हम उठे तो मैंने देखा कि सुबह के 6 बज गये है और तब तक हम दोनों की दारू उतर चुकी थी और वो बिल्कुल भी नहीं समझ पा रही थी कि यह सब कैसे हुआ? लेकिन वो हमारी रात भर की चुदाई से बहुत खुश थी, बस उसको इस बात का डर था कि उसके बॉयफ्रेंड को कोई ना बता दे.

फिर मैंने उससे वादा किया कि में कभी किसी को नहीं बताऊंगा और फिर वो मेरे मुहं से यह बात सुनकर बहुत खुश हो गई. फिर मैंने मौका देखकर उससे कहा कि क्यों एक बार और चुदाई हो जाए? तो वो कहती है कि हाँ ठीक है, लेकिन पहले हम नहा लेते है और हम एक साथ नहाए और एक दूसरे को नहाते हुए हमने किस और सक किया.

फिर नहाकर में बाहर से हमारे लिए नाश्ता लेकर आ गया. उसके बाद हमने पूरे नंगे रहकर ही नाश्ता किया और बीच बीच में वो अपने बूब्स पर जेम लगाती और में उसे तुरंत चाट लेता. फिर में अपने लंड पर जेम लगाता और वो चाटती. फिर नाश्ता करने के बाद मैंने उससे कहा कि प्लीज मुझे एक एक बार तुम्हारी चूत और गांड मारनी है. फिर वो मुझसे कहने लगी कि ठीक है, लेकिन गांड में थोड़ा आराम से, क्योंकि यह मेरी गांड की पहली बार चुदाई होगी.

फिर मैंने हाँ कहा और में अब मन ही मन बहुत खुश हो गया और उस पर टूट पड़ा और उसने मेरा लंड पकड़ा और में उसे किस करने लगा, थोड़ी देर बाद मैंने उसको घोड़ी बनाकर उसकी चूत में अपना लंड डाल दिया और तेज़ धक्के देकर चोदने लगा, बीस मिनट बाद में अब झड़ने वाला था तो मैंने झट से अपने लंड को बाहर निकाल लिया और उसे किस करने लगा. फिर मैंने उससे कहा कि अब गांड की बारी है तो मुझसे वो कहने लगी कि प्लीज थोड़ा आराम से डालना यार. फिर मैंने उससे कहा कि कोई टेंशन वाली बात नहीं जानेमन, अब में उसकी गांड के छेद में अपना लंड डालने लगा, लेकिन बहुत कोशिश करने पर भी लंड अंदर नहीं जा रहा था.

फिर मैंने थोड़ी देर बाद उसकी गांड पर बहुत सारा थूक लगाकर अपनी ऊँगली को अंदर बाहर किया. फिर जब छेद थोड़ा ढीला हुआ तो मैंने लंड को फिर से अंदर डालने की कोशिश की और उसे अब थोड़ा थोड़ा सा दर्द हो रहा था, लेकिन मैंने उसे किस करते हुए एक ज़ोर का झटका मारा और फिर आधा लंड अंदर चला, उसने मेरी कमर पर नाख़ून गड़ा दिए और उसने ज़ोर से चिल्लाने की कोशिश की, लेकिन मैंने उसके होंठो को अपने होंठो से बंद कर लिए और वो मुझे पीछे धकेलने लगी, लेकिन में नहीं माना और बहुत धीरे धीरे लंड को अंदर बाहर करने लगा.

Desi mast chudai kahani

फिर कुछ देर बाद उसे भी मज़ा आने लगा और वो अपनी गांड को उठा उठाकर लंड को पूरा अंदर लेने लगी और कहने लगी हाँ और ज़ोर से डाल, आज से में तेरी रंडी हूँ, हाँ और ज़ोर से चोद मुझे उह्ह्हह्ह आईईई. अब में लगातार ज़ोर से धक्के देकर चोदने लगा, लेकिन अब भी मैंने महसूस किया कि उसकी गांड का छेद बहुत टाईट था तो मुझे लंड को अंदर घुसाने में बहुत ताकत लगानी पड़ी और अब मुझसे भी ज़्यादा समय रहा नहीं गया और 25 मिनट में मेरा वीर्य निकल गया और अब उसकी गांड से मेरा वीर्य बूंद बूंद करके टपक रहा था.

फिर हम दोनों ऐसे ही थोड़ी देर लेटे रहे और वापस जाने को तैयार होने लगे. मैंने देखा कि उसे चलने में थोड़ी मुश्किल हो रही थी और मुझे भी इतनी चुदाई के बाद अपने लंड में थोड़ा दर्द हो रहा था. फिर उसने मुझे उसके होस्टल तक छोड़ने को कहा और में उसे छोड़कर वहीं वापस होटल में आ गया और उसकी चुदाई को सोचने लगा. दोस्तों उसके बाद मैंने उसको कहीं बार चोदा.

4 comments

  1. Vikram Ludhiana

    hello.
    Ludhiana ki pyaasi ladies
    Jisne jawani me mote or mast lund ka maza na liya, uska jeena bekaar hai.
    Ludhiana ki mature sexy choot jo naya or mota mast lauda lena chahti ho or jisko apni chut chuswane ka shauk ho mujhe call kare = 99886 83050
    मुझे मैच्योर shaved चूत चाटने और चोदने का बहुत शौक है.
    चुसाई और चुदाई का पूरा मज़ा मिलेगा.
    Couples भी 3 Some चुदाई के लिये काल करें.

    Secrecy and Satisfaction assured.

    Muuuaahhhhhhh
    Vikram from Ludhiana
    99886 83050

  2. I am a callboy Agr koi Sexy girl bhabhi ya aunty meri service lena chahti h to vo mujhe mail ya contact kare m aapko full satisfied karunga m aapki chut aur gand ko pura andr tk chatunga jeeb se pir uske bad apne Lund se chudai kruunga
    Contact. 07060966176

  3. Koi btayega bhai sex ki golio ka kya nam hai

  4. Hemant my whats app no.9120307062

Leave a Reply