Bhabhi Ko Choda Uske Pati Ke Samne – Part II

Read: Bhabhi Ko Choda Uske Pati Ke Samne – Part I

नमस्कार दोस्त मैं नवदीप एक बार फिर से आप के सामने दूसरा पाठ लेकर आया हूं कहानी अब तक थी।

तो साहिल ने बोला नहीँ भाभी जी यह मेरा अंडरवियर नहीँ है नहीँ है शांति को बहुत गुस्सा आया और उसने बोला कि अपना अंडरवियर दिखाओ तो उसने देखा कि साहिर ने हर बड़ी मेँ उसके पति का अंडरवियर पहन लिया है तो उसने बोला कि मैँ अब पुलिस को फोन करने वाली हूँ सच सच बता दो कि क्या माजरा है और उधर शांति के पती को पसीना आ रहे थे यह सब देख कर।

तो फिर उसके बाद साहिल – ने सब कुछ सच सच शांति भाभी को बता दिया कि कैसे भाई साहब मुझे पार्क में रात को मिले थे और कैसे इन्होने मेरा नंबर ले लिया और इन्होंने मुझे अपने घर बुला लिया फोन कर के और भाई साहब नहाने जा रहे थे और तभी में घर में आ गया और इन्होंने अपना काम चालू कर दिया और अचानक से इनका तौलिया जो है वह नीचे गिर गया और भाई साहब का लंड मेरी आंखों के सामने आ गया और भाई साहब ने पहले तो मुझे कुछ नहीं बोला और अपना तौलिया सही कर लिया और उसके बाद भाई साहब मेरे पास आए और मुझे बोले कि अपना भी मुझे दिखा दो तुमने मेरा तो देख लिया है।

और फिर साहील ने भी अपनी पेंट उतार दी और भाई साहब उनका लंड देख कर हैरान हो गए और शांति के पति ने झट से उनका लुंड अपने मुंह में ले लिया और चूसने लग गए मुझे (साहिल) थोड़ा सा मजा आने ही लगा था इतने में भाभी आप आ गई और हम दोनो हट बड़ी मे इधर-उधर भागने लग गए भाभी मुझे माफ कर दीजिए में आगे से ऐसा कभी नहीं करूंगा बस लास्ट टाइम छोड़ दीजिए।

शांति – अच्छा तो यह बात है चलो कोई बात नहीं आखिरी बार तुमको जाने दे रही हूं पर अगली बार हमारे घर के आसपास भी दिखे तो पुलिस में डलवा दूंगी।

शांति यह सोचकर बहुत परेशान हो रही थी कि उनके पति ऐसे काम भी करते है और उनके पति को मर्द का लंड चूसना क्या अच्छा लगता है यह सब बातें शांति के दिमाग में चल रही थी और फिर शांति करती भी तो क्या करना था भारतीय नारी होने के कारण उसने यह सभी कार्य कर लिया और अपने काम में लग गई शांति ने अपने पति को इसके बारे मे अब और कुछ नहीं पूछा और वह अपनी जिंदगी जीने लग गए थे।

शांति को किसी ने बताया कि इंटरनेट पर सेक्स स्टोरीस होती है उन्हें पड़ा किया करो तो शांति हर रोज इंटरनेट पर सेक्स कहानियां पड़ती रही और उसको एक दिन मेरी कहानी मिल गई तो उसे मेरी सारी कहानियां बड़ी अच्छी लगी और उसने मुझे डायरेक्ट मेरे नंबर पर वाटसअैप किया मुझे शांति की यह बात बहुत अच्छी लगी कि उसने इमेल में टाइम नहीं खराब किया और डायरेक्टर नंबर के साथ जुड़ गई और उस ने मुझे यह सब बातें बताई तो दोस्त कहानी कुछ पेचीदी सी है।

मैंने पहले भी बताया था तो हुआ यूं कि शांति ने मुझे यह सारी बातें मैसेज के द्वारा मुझे बता दी थी और उसने बोला था कि अगर आप मेरे पति को मना लेते हैं तो हम दिल्ली आ सकते है ओर आपके लंड का मजा ले सकते है मेरा पति आपका लंड देखकर पागल हो जाएगा और चूस्ता ही रहेगा और आप मेरी चूत को छांटना और मेरी चूत में अपना इतना बड़ा लंड डाल देना और मेरे पति के सामने ही मुझे चोदना मुझे शांति की यह सब बातें सुनकर बहुत अच्छा लग रहा था।

कि कैसे वह मेरा लंड लेने के लिए उतावली हो रही है और शांति ने मुझे बोला कि मैं आपके साथ गिस गिस नहाना चाहती हूं बाथरुम में और आपके साथ मजा लेना चाहती हूं क्योंकि मैं देखने में बहुत ही ज्यादा सुंदर हूं और सभी लड़कियां मुझ पर मरती है अपनी तारीफ खुद नहीं कर रहा मैं यह सब दुनिया कहती है।

मुझे तो फिर हमने सेक्स चैट स्टार्ट कर दी और शानती ने मुझे अपनी चूत की एक फोटो सेंड की और मैंने भी अपने लंड की एक तस्वीर उसे भेज दी और उसने लंड को देखते ही मुझे रपलाई किया कि मै आपका मुंह में लेकर चूस रही हूं और बहुत मजा आ रहा है और पूरा अंदर नहीं जा रहा है इतना बड़ा आपका लंड है मुझे चूसने में बहुत ही ज्यादा मजा आ रहा है।

तो मैने भी उसे कह दिया कि मैं भी तुम्हारा सर पकड़कर आगे पीछे कर रहा हूं हां शांति मेरी जान क्या मस्त लंड चूत की है तू बहुत मजा आ रहा है मैं तेरी चूत को भी चाट लेता हूं तो उसने रिप्लाई की है हां ठीक है तो मैं उसकी चूत चाटने लग गया और वह मेरा लंड काट रही थी बहुत ही ज्यादा मजा आ रहा था मैं आपको बता नहीं सकता और उसके बाद मैंने उस को कुतिया बना दिया और उसकी चूत में पीछे से अपना लंड डाल रखा और एक धक्का मारा तो आधा लंङ उसकी चूत में चला गया और उस की चीख निकल गई मुझे उसकी चीक सुनकर बहुत बहुत मजा आया और मैंने एक और धक्का मारा तो मेरा पूरा लंड उसकी चूत को पढ़ते हुए अंदर चला गया और फिर मैने धीरे से नीचे से उस के बूब्स को प्रेस करना शुरू कर दिया।

उसे भी अब बहुत ज्यादा मजा आ रहा था और वह आ आ आ आ आ कर रही थी और फिर उसके बाद मेरे लंड का पानी भी निकल गया और मैन ने अपने लंड की तस्वीर उसको भेज दी और उसने मेरे लंड का पानी सारा चाट कर साफ कर दिया और उसकी चूत का पानी मेरे चाट कर साफ कर दिया तो इस तरह से हमारी हर रोज सेक्स चैट होने लग गई हम दोनो रोज एक दूसरे को अपनी पिक्चर्स भेजते रहते थे शांति और में है।

हर रोज अपने मोबाइल पर सेक्स चैट करते रहते थे और अपना अपना पानी निकालते रहते थे तो शांति की चूत में बहुत ही ज्यादा आग लगी हुई थी तो उसने मुझे बोला कि मेरे पति को मना लो और फिर हम दिल्ली जाएंगे और आपके लंड का मजा लेंगे तो मैन्ने शांति की योजना अनुसार काम करना शुरु कर दिया मैंने उसके पति को मैसेज भेजा था और मैंने अपने बारे मे उसको सब कुछ बताया और धीरे-धीरे हम है।

और उसका पति दोस्त बन गए तो मैंने जानबूझकर अपनी लुंड की तस्वीरें उसके पति को भेज दिए और लिख दिया कि सॉरी मैंने किसी और को भेजनी थी आपको सेंड हो गई गलती से हेतु उसके पति ने मेरी तस्वीरें देखी और उसके पति के मुंह में मेरा लंड देखकर पानी आ गया तो उसने बोला करे कोई बात नहीं चलता रहता है वैसे मुझे आपका लंड बहुत अच्छा लगा तो मैंने उसके पति को धंयवाद बोला।

पढ़ते रहिये.. क्योंकि कहानी अभी जारी है मेरी ईमेल आई दी है “[email protected]”।

कहानी पढने के बाद अपने विचार नीचे कमेंट्स में जरुर लिखे। ताकी हम आपके लिए रोज और बेहतर कामुक कहानियाँ पेश कर सकें। डी.के

Leave a Reply