पाँच सुंदर कलियों के साथ ग्रुप सेक्स

हाय दोस्तो मेरा नाम प्रशान्त है।आज मे आपके सामने एक नयी कहानी पेश कर रहा हूँ। जिसका नाम है पाँच सुंदर कलियों के साथ ग्रुप सेक्स |  एक कोचिंग सेंटर है। यहां पर बहूत सी लडकियां पढ़ने आती है। उनमे से बहुत सी लडकियाँ खुबसुरत थी और कुछ नहीं। मैने उनमे से 5 पाँच बेहद खुबसुरत लडकीयों को शोर्ट लीस्ट किया और उनके साथ डेटिंग का प्लान बनाया।

मेरा इरादा ग्रुप सेक्स का था। सिर्फ सोच के देखो दोस्तों पांच सुंदर कन्या गोरी और योवन से भरपुर बिल्कुल नंगी आपको घेरे खडी हो सोच कर भी खडा ना हुआ तो ईलाज कि जरूरत है आपको। मैने पास का ही एक शहर चुना और शहर के बाहर एक रीसोर्ट बुक किया जाने के लिये माँ बाप को राजी किया।

सारी लडकियाँ तैयार थी। मेने ईनोवा से सबको पिक किया और रिसोर्ट पहुँच गया रिसोर्ट वाले सभी कर्मचारी मुझे जानते थे।मैने सबकी जेब भी गर्म कर रखी थी।सभी लडकियों के कमरे मे कैमरे फिट थे।जिससे मैने कपडे बदलते समय विडीयो ले ली थी।
अब मैने सबको बुलाकर ब्लेकमेल करना  शुरु किया उनमे से कुसूम बोली सर प्लीज ये फोटो फेसबुक पर अपलोड मत करना आप जेसा कहोगे हम वैसा ही करेंगे।

में बोला ठिक है फिर एक स्पिच दी जिससे मे उन्हे नार्मल और कम्फर्ट कर सकु और अपने ईरादे बता दिये। सब लडकियाँ अब तन मन से मेरी गुलाम थी। फिर मे बोला अपने कमरे मे जाओ और तैयार हो कर होल मे आ जाओ। सभी लडकियों के लिये हेयर रीमूवर और सबकी अलग ड्रेस रखी थी।सब नहा धो कर होल मे पहुंची।

ऐसा लग रहा था मानो आसमान से परीयाँ उतर आइ थी सबकी ड्रेस मेने अलग डिसाइड की थी पहली कुसुम जो सादे कपड़ो मे रहती थी उसे मेने मिनी स्कर्ट शाईनिंग ब्लेक और वाईट टाईट टाप दिया जिससे वह अनकम्फर्ट हो रही थी और अपने गोरे रेशमी टांगो को ढकने के लिए स्कर्ट को खिंच कर आगे झुक कर ढक रही थी।ये देखकर ही मेरा लंड जोर मारने लगा।दुसरी वाली पुजा उसे रेड डीजाइनर सलवार कुर्ति तिसरी ऊर्मिला को जिंस और पिंक टिशर्ट चौथी पायल को जिंस का बहुत छोटा वाईट शोर्ट और पाँचवी रुबीना को सेक्सी रेड चेक्स स्कूल ड्रेस।
मेने वहा उनके लिये सरपराइज रखा था।

पाँच सुंदर कलियों के साथ ग्रुप सेक्स

वहा एक बोक्स था। जिसमें खडे होने पर लडकी का आधा शरीर बोक्स के उपर अलग दिख रहा था और आधे से थोडा सा ज्यादा शरीर केबिन मे ढका हुअा था। उनको टास्क दिया गया की ग्राहक आपसे होटल के बारे मे पुछेगा और आपको सहज रहकर उनका जवाब देना होगा उसे सिर्फ आपका उपरी हिस्सा हि दिखेगा सब लडकियाँ समझ गयी | आप यह कहानी मस्ताराम डॉट नेट पर पढ़ रहे हैं |

सबसे पहले मेने कुसुम को बुलाया वो पहले से शर्मा रही थी और मुझे यहीं बात मदहोश कर रही थी वो केबिन में खडी हुइ मेने उसे उपर से लोक कर दिया और नीचे गुस गया वहाँ अंधेरा था पर मैने वहाँ लाईट का ईंतजाम कर रखा था। लाईट चालु करते ही सफेद टिशर्ट के नीचे ब्लेक स्कर्ट और गोरी टांगे जांघो तक दिख रही थी मेरे मुह मे पानी आ रहा था ।मैने तुरंत अपनी पेंट और अण्डरवियर खोलि लंड गोरी जांघो को लाइट मे देखकर ईतना कड़क हो गया था कि अभी टूट कर नीचे गिरे तभी वहां ग्राहक आया और होटल के बारे में पुछने लगा तभी मैने उसका टिशर्ट नाभी से ऊपर किया और एक किस कर दिया वो चिल्ला गयी  ग्राहक बोला क्या हुआ मैडम वो बोली कुछ नहीं कमर मे दर्द ऊठा था।

मैने दोनो हाथो से उसके कुल्हो को जोर से दबा दिया और उपर से हि कीस करने लगा फिर जांघो पर किस करना शुरू किया फिर नीचे से स्कर्ट मे दोनो हाथ डालकर पेंटी धीरे धीरे नीचे सरका कर घुटनो तक लाया और नीचे से निकाल दी उसने विरोध किया पर केबिन पेक होने से वो ज्यादा कुछ कर नहीं पाइ ग्राहक को किसी तरह से उसने भगा दिया मैने उसके पेर चौडे किये और अपना मुह स्कर्ट मे गुसा दिया और जीभ से उसकि चुत का रस पीने लगा ये उसका पहेली बार था जिससे वह बहुत जोर से छटपटाने लगी वो जितना छटपटाती मुझे उतना ही ज्यादा मजा आता मैने जोश मे उसकी जांगो को अपने कंधे पर रखकर जकड लिया और अपनी जिबान को चुत के अंदर चारो और ले गया वो मना करती रही प्लीज छोड दो मत करो अाऊच अाअा नहीं ओ नहीं अओआईआह ओ नहीं प्लीज जाने दो नहीं आई मर गयी उसकि सांसे उखड रही थी ये सब मुझे और ज्यादा ऊतेजित कर रहा था।लगातार चाटने पर वह जड गयी।तब मैने उसे आजाद कर दिया।

चुम्मे से गर्म हो गयी कच्ची कलियाँ

अब बारी थी पुजा कि उसे भी केबिन में खडा किया और पजामे का नाडा खोला और दोनो हाथो से पजामा नीचे सरका दिया दोनो जांगो पर खुब कीस करने के बाद उसकी पेंटि को धीरे धीरे नीचे उतारा और वही सबकुछ किया जो कुसुम के साथ किया था। ऐसा हि मैने सबके साथ किया।रिसोर्ट के सभी लोगो को मैने बाहर भेज दिया और मेन गेट पर ताला लगवा दिया और सबको स्वीमींग पुल पर बुला लिया ।लडकियाँ बहुत शर्मा रहिं थी।
मै बोला मैने अभी तक तुम्हारी चुत के बहुत मजे लिये है अब मे तुम्हारे पुरे बदन के मजे लुँगा सभी लडकियाँ बोली जैसी आपकि मर्जि आप जैसा चाहो हम वही करेंगी । आप यह कहानी मस्ताराम डॉट नेट पर पढ़ रहे हैं |

मैने कहा ठिक हे सब अपने हाथ ऊपर करो लडकियों ने वैसा हि किया सबसे पहले मे कुसुम के पास गया और उसकि टिशर्ट उपर से उतार दी और ब्रा भी फिर स्कर्ट नीचे और पेंटी भी नीचे से निकाल दी और हाथ नीचे करने को कहा इसके बाद पुजा कि सलवार और ब्रा उतारी और नाडा खोलकर पजामा और पेंटी अलग की फिर पायल के पास गया उसने वाईट शोर्ट और टिशर्ट पहना था टिशर्ट और ब्रा ऊपर से निकाले शोर्ट का बटन और चेन नीचे कर नंगा कर दिया फिर ऊर्मिला फिर रुबिना सबको अपने हाथो से नंगा करने में बहुत मजा आया खुले आसमान के नीचे पांचो जवान लडकियों के बदन निखर रहे थे।

गांड पर तेल लगा कर चोदा

मैने अपने कपडे ऊतारे और ऊन्हे लंड चुसने के लिये कहा पाँचो ने बारी बारी से चुसा मुझे मीठी सी गुदगुदी का अहसास हो रहा था पाँचो को फिर पानी मे ऊतारा और उनके तने हुए बोबो का स्वाद लिया अब मुझ से और नहीं रूका जा रहा था मुझे पाँचो कि सिल तोडकर ऊन्हें कच्ची कली से फुल बनाना था हमेशा कि तरह इस बार भी पहला नम्बर कुसुम का ही था वो गभरा गयी और मना करने लगी मैने दो को ऊसके हाथ पकडने को कहा और दो को ऊसके पैर ऊठाने को में पानी मे हि ऊसके पास गया और सुपडा उसकी चुत पर रखा वो बोली नहीं सर प्लीज सर नहीं मैने रूबीना को उसका मुह बंद करने के लिये बोला और एक झटके मे पुरा लंड गुसा दिया और चार पाँच झटको के बाद छोड दिया ऐसा मैने सबके साथ किया फिर पानी से बाहर निकाल कर सबको गोडी बनाया और उनकी गांडो पर तेल लगाकर सबकी गांड मारी अब मै झडने वाला था। मैने कुसुम के पेर अपने कंधे पर रखकर चुत मे रेलगाडी चला दी और अपने वीर्य को उसके बोबो पर डोल दिया। इस बार मैने कुसुम को ज्यादा टार्गेट किया था। अगली बारी किसी और की थी।