नेहा की चूत के सामने मेरा लंड

हाय, आइ ऍम अजय फ्रॉम अहमदाबाद. मेरी उम्र १९ साल है, में एक कॉलेज स्टूडेंट हूँ, Kamasutra Chudai Antarvasna Kamukta Hindi sex Indian Sex और यह मेरी पहली सेक्स स्टोरी है जो में आप सब के साथ शेयर कर रहा हूँ. यह उस समय कि बात है जब में ११थ स्टैण्डर्ड में स्टडी कर रहा था. और में बहुत पोर्न मूवीज देखता था और सेक्स स्टोरी भी पढता था तो मेरे पास सेक्स कि नॉलेज काफी थी पर कभी सेक्स करने का मौका नहीं मिला था. हमारे घर के सामने वाले घर पर एक फॅमिली रहती है, जिसमे हसबैंड, वाइफ और उसकी एक लड़की जिसका नाम नेहा है.

नेहा उस वक़्त कॉलेज के सेकंड इयर में थी, एवरेज लूकिंग गर्ल थी, और गोरी स्किन च्ब्बी बॉडी और उसके बूब्स और अस अपनी उम्र से काफी आगे बढ़ी हुई थी तो उसे देखते हे मेरा खड़ा हो जाता था. और में उसे चोदने के खवाब देखने लगता था.

मेरी उससे कभी बात नहीं होती थी., में उसे लाइन मरता रहता था. उसने मुझे नोटिस भी किया था लेकिन वो शायद मुझे चोट्टा मानती थी. मेरे रूम कि विंडो बिलकुल उसके रूम कि विंडो के सामने थी.

मैंने रोज़ उसे घुरना चालू किया, जब हमारी आँखें मिलती तो में स्माइल दे देता था तो वो भी स्माइल करती. में अन्दर ससे बहुत खुश हो रहा था लेकिन मैंने सोचा शायद ज़ल्बाज़ी अच्छी नहीं. तो धीरज के साथ काम करने कि सोची. एसा कुछ दिन तक चलता रहा और शायद उसे भी मेरे इरादे के बारे में पता चल गया था.

एक दिन में हमारी सोसाइटी के पास ऐसे ही टाइमपास कर रहा था. तबी वो अपने घर से निकली तो मैंने उसे रुकने के लिए बोला और वो रुक गयी और हम ने थोड़ी से बाते करी.

फिर उसने बोला कि तुम मुझे रोज़ रोज़ घूरते क्यों रहते हो? मुझे तो बस ग्रीन सिग्नल मिल गया. मुझे पता चल गया कि वो भी इंटरेस्टेड है.

मैंने कहा कि तुम बहुत ब्यूटीफुल हो इसलिए.

उसने बोला बस इसलिए?

मैंने कहा हा.. यू और सो ब्यूटीफुल, इ लाइक यू.

फिर उसने स्माइल दी.

तो मैंने मौका देखते हुए उससे मूवी के लिए पूछा तो उसने हा बोला. हम यहाँ से मूवी देखने के लिए गए.

मैंने कोने वाली सीट लेली और सुबह का टाइम होने से भीड़ भी बहुत कम थी.

मूवी देखते वक़्त मैंने उसका हाथ पकड़ा उसने कुछ नहीं बोला, में उसे देख रहा था उसने यह नोटिस किया और बोला कि मूवी देखो.

मैंने धीरे से उसके कण में बोला कि मुझे किस करना है और उसने शॉक से मेरे सामने देखा और थोड़ी देर में स्माइल करने लगी. में ख़ुशी से उछल पड़ा. मैंने उसको अपनी तरफ थोडा खिंचा और उसके सिर को पीछे से पकड़ के उसके रसीले होंठो को हलके से किस किया.

कुछ सेकंड्स के लिए हलके से किस कर के में रुका और उसकी आँखों में देखने लगा. हम दोनों ने हलकी सी स्माइल कर रहे थे.

उसने बोला कि क्यों रुक गए?

यह सुन कर मैंने फिर से उसके होठो को चूमना शुरू कर दिया और उसकी पीठ को सहलाने लगा वो भी मेरा पूरा साथ दे रही थी.

धीरे धीरे में और जोर से उसके होठो को चूसने लगा, मेरी जीभ उसकी जीभ के साथ लड़ने लगी. मेरा एक हाथ उसके बूब्स को सहलाने लगा.

मैंने उसके बूब को हलके से प्रेस किया और सहलाने लगा. उसस वक़्त सच बतायु मुझे बहुत मज़ा आ रहा था. लेकिन तभी मूवी का इंटरवल हो गया और लाइट्स चालू होने कि वजह से हम अलग हो गए.

मैंने उसकी आँखों में देखा तो वो थोडा गुस्सा लग रही थी. पर मुझे देखते हे नॉटी स्माइल देने लगी और उसने मुझे उसके घर पर जाने को कहा. उसके मोम एंड डैड दोनों जॉब करते थे, तो दिन में घर पर कोई नहीं होता था. में खुश हो रहा था. हम दोनों घर जा रहे थे रस्ते में मडिकल स्टोर से कंडोम ले लिया..

वो सिर्फ नॉटी स्माइल दे रही थी और उसने घर का दरवाज़ा बंद कर के सीधा उसके लिप्स को चूसने लगा वो भी मेरा साथ दे रही थी. फिर उसने मेरी टी-शर्ट उतर दे और मेरे सीने पर अपना सिर फेरने लगी और चाटने लगी.

मैंने उसकी टी-शर्ट निकल दे और हम ने किस करना शुरू कर दिया. इस बार मेरे हाथ उसकी गांड पर थे और उसके हाथ मेरी पीठ पर थे. में उसकी गले को चूमता हुआ नीचे बाधा और बूब्स को उसकी वाइट ब्रा के ऊपर से चाटने लगा.

उसने अपनी ब्रा खोल दी उसके बड़े बूब्स अब मेरे सामने थी. मैं उसके ब्राउन निप्प्लेस को चूसने लगा और दुसरे बूब को दबा रहा था. वो धीरे धीरे मोन कर रही थी. में अब और जोर से उसके बूब्स दबा रहा था और बीच बीच में चूस भी रहा था. फिर मैंने उसको धक्का मार कर सोफे पर गिरा दिया. में लगातार उसके बूब्स को दबा और चूस रहा था.

फिर मैंने उसकी जीन्स और पेंटी दोनों उतर दे और उसकी चूत को देखने लगा. लाइट ब्राउन कलर कि चूत को देख कर में पागल हो गया और उसकी चूत को उंगली से सहलाने लगा, वो हलके से मोन करने लगी.

फिर में उसकी चूत को चाटने लगा, वो अपनी आँखे बंद कर के मोअन कर रही थी. मेरी हालत ख़राब हो रही थी. मेरा लंड एक दम टाइट था और में खड़ा हो गया और मेरी पेंट और अंडरवियर निकल दी और कंडोम लगा लिया.

वो सोफे पर लेती हुई थी, उसने अपने पेरो को फैला दिया और में जाकर उसकी चूत पर मेरे लंड को रगड़ने लगा और थोड़ी देर बाद हल्का धक्का दे कर थोडा सा अंडर घुसा दिया. वो अपनी आँखे बंद कर के मओंनींग करने लगी.

मैंने हलके से धक्के लगाना शुरू किया और पूरा लंड अंडर घुसा दिया. वो मुझ से एक दम चिपक गयी, में धीरे से कमर हिला कर धक्के लगाना शुरू कर दिया था. मैंने अपनी स्पीड और बढ़ा दी. वो अब जोर जोर से मोंन कर रही थी.

धक्के लगाते हुए उसको किस किया अब उसने भी अपनी गांड ऊपर नीचे करना शुरू कर दिया था. मैंने अपनी स्पीड और बाधा दे. वो अब जोर जोर से मोअन करने लगी.

में कभी उसे किस कर रहा था तो कभी उसके बूब्स दबा रहा और उसके बूब्स चूस रहा था और उसे चोद रहा था. कुछ देर में झड गया और वो भी झड गई. हम दोनों एक दुसरे को टाइट हग कर के थोड़ी देर ऐसी ही लेते रहे.

फिर वो कड़ी हो कर कपडे पहन ने लगी, में उसके फिगर को देखता रहा. वो एक दम सेक्सी थी हगे बूब्स, राउंड अस एवरेज हाइट, एक दम पोर्न स्टार कि तरेह.

मैंने उसे पुछा कि मज़ा आया.

तो उसने कहा – कब मिल रहे हो?

मैंने कहा – जब मन करे.

उस के बाद, हम कई बार उसके घर मिले और सेक्स किया. लेकिन एक दिन उसकी माँ को पता चल गया और मैं फिर से अकेले हो गया. थैंक यू आप सब लोगो का मेरी सेक्स स्टोरी को पढने के लिए. अगर आप को मेरी सेक्स स्टोरी पसंद आई हैं तो अपने विचार कमेन्ट में लिख भेजें.

Leave a Reply